बिहार राज्य प्रारंभिक शिक्षक संघ का सफर

💎 बिहार राज्य प्रारंभिक शिक्षक संघ का सफर🚶
📖📖📖📖📖
✍️ वजीह अहमद तसौवुर के कलम से
बिहार राज्य प्रारंभिक शिक्षक संघ अपने स्थापना काल से ही नियोजित शिक्षकों के हक हकूक की लड़ाई जोरदार ढंग से लड़ती आई है और शिक्षकों के सहयोग से प्रदीप कुमार पप्पू के कुशल नेतृत्व में हमेशा सफलता पाई है जिसका नतीजा है कि 2003 में 1500 से शुरू हुआ सफर 25000 के पार, शिक्षा मित्र से नियोजित शिक्षक और 11 महीने से 60 साल वाली नौकरी पर पहुंच गये। संघर्ष जारी है और प्रसिद्ध अधिवक्ता कपिल सिब्बल के माध्यम से संघ ने समान काम समान वेतन की लड़ाई उच्चतम न्यायालय में जिस जोरदार ढंग से लड़ी है उसने हौसलों को नई उडान दी है और पूरा विश्वास है कि इस लड़ाई में भी शिक्षकों की जीत होगी।


बिहार राज्य प्रारंभिक शिक्षक संघ सिर्फ राज्य स्तर पर ही नहीं बल्कि जिला और प्रखंड स्तर पर भी शिक्षकों की समस्याओं और मांगों को लेकर हमेशा कमर कस कर तैयार रहती है यही वजह है कि नियोजित शिक्षकों का विश्वास और समर्थन हमेशा बिहार राज्य प्रारंभिक शिक्षक संघ को मिला है।


सहरसा जिले में बिहार राज्य प्रारंभिक शिक्षक संघ ने जिला अध्यक्ष सह राज्य सचिव भाई निरंजन कुमार के नेतृत्व में शिक्षकों के हित व अधिकार की लड़ाई पुरे दमखम से लड़ने का काम किया है और शिक्षकों के विश्वास पर खड़ा उतरने का काम किया है, शिक्षकों के हर समस्या और परेशानी पर आवाज बुलंद किया और शिक्षकों की समस्याओं से निजात दिलाने में अहम रोल अदा किया।


याद दिला दें कि बिहार राज्य प्रारंभिक शिक्षक संघ सहरसा की प्रमुख उपलब्धियां
👉 सेवा पुस्तिका संधारण
👉 सेवा पुस्तिका पुन: संधारण एवं वितरण
👉 लगातार चार दिनों तक आमरण अनशन कर पुर्व के एरियर का भुगतान
👉 पर्सनल श्रृण से संबंधित नोडल अधिकारी के रुप में प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी को जिम्मेदारी देने का पत्र निर्गत
👉 50 वर्ष से अधिक आयु वर्ग की महिला शिक्षिकाओं को विशेषावकाश के लिए मेडिकल की बाध्यता से छुटकारा
👉 नियोजित शिक्षिका रुबी कुमारी की दुर्घटना में मौत होने पर आन्दोलन कर चार लाख रूपये का सरकारी सहायता और बच्चों को केन्द्रीय विद्यालय में नामांकन
👉 MDM रिकवरी के मामले में प्रधानाध्यापकों को समर्थन
👉 संवर्धन के सर्टिफिकेट वितरण का आपातकालीन व्यवस्था
👉 समान काम का समान वेतन मामले में पटना उच्च न्यायालय के आदेश को लागू करवाने हेतु विधालय ताला बंदी के समय का समायोजन
👉 नि:शुल्क सेवा पुस्तिका वितरण
👉 इग्नू से प्रशिक्षण एवं परीक्षा में सहयोग व मार्गदर्शन
👉 शिक्षकों की समस्याओं एवं आवश्यकताओं से जिला व प्रखंड स्तरीय पदाधिकारीयों को अवगत कराना
बिहार राज्य प्रारंभिक शिक्षक संघ हमेशा नियोजित शिक्षकों के मान सम्मान के लिए संघर्ष किया है और जायज मांगों के समर्थन में संघर्ष करती रहेगी।

Facebook Comments
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply