17 फरवरी से हड़ताल पर जाने के लिए बनमा ईटहरी प्रखंड के शिक्षकों ने कमर कसी

हाथ उठा कर हड़ताल पर जाने का समर्थन करते हुए

वजीह अहमद तसौवुर के कलम से ✍️

 सहरसा जिला के बनमा ईटहरी प्रखंड के शिक्षकों ने एकजुट होकर आगामी 17 फरवरी से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने की घोषणा कर दी है। आज बीआरसी केंद्र ईटहरी में आयोजित बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति की प्रखंड स्तरीय बैठक में उक्त आशय का सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया और हड़ताल को सफल बनाने हेतु एक कमिटी का गठन किया गया।
डा कौकब सुल्ताना की अध्यक्षता और दिग्विजय कुमार के संचालन में चले मीटिंग को  जिला समन्वय समिति के अध्यक्ष मंडल के सदस्य श्री निरंजन कुमार ने संबोधित करते हुए कहा कि इस बार हमारे पास सुनहरा मौका है कि हमारे बड़े भाई यानी नियमित शिक्षक संघ का भी नियोजित संघों को समर्थन मिल रहा है और हम सब एकजुट होकर एक झंडा के नीचे आकर अपनी लड़ाई लड़ रहे हैं इसलिए सभी इसको सफल बनाने के लिए अपने कमर कस लें। हम गांधी जी के बताए के अनुसार से लोकतांत्रिक ढंग से अपनी लड़ाई लडेगे और जीतेंगे। इस अवसर पर समन्वय समिति की जिला कमेटी की सदस्य डा कौकब सुलतान ने बनमा ईटहरी प्रखंड में सौ प्रतिशत हड़ताल की सफलता के लिए सभी शिक्षकों से चट्टानी एकता का आव्हान करते हुए हर शिक्षक को अपनी जिम्मेदारी निभाने की जरूरत पर जोर दिया।
जिला अध्यक्ष निरंजन कुमार का स्वागत करते
  इस अवसर पर हड़ताल की सफलता के लिए प्रखंड स्तरीय समन्वय समिति का गठन किया गया जिसमें में अध्यक्ष मंडल में कैसर आलम व दिग्विजय कुमार, सचिव के रूप में मनोज कुमार व सुभाष चन्द्र बनाये गये। कोषाध्यक्ष अरूण कुमार और मीडिया प्रभारी की जिम्मेदारी दशरथ तांती को सौंपी गई है। इसके अलावा निगरानी समिति में डा कौकब सुल्ताना, जहां आरा, रोहिण कुमार, प्रभात कुमार, अंगद पासवान को शामिल किया गया है। इस अवसर पर सभी शिक्षकों ने आगामी 15 फरवरी को शाम 5 बजे सिमरीबख्तियारपुर प्रखंड बीआरसी केंद्र से स्टेशन चौक तक निकलने वाले मशाल जुलूस में शामिल होने पर अपनी सहमति दे दी। इस अवसर पर अन्य लोगों के अलावा श्री अरविंद कुमार, अब्दुस सुबहान, रिजवान आलम, बबलू भगत, मसरूर आलम, मो अहसन आलम, घनश्याम पंडित, मो अबू जफर, विनय कुमार, नृपेंदर ठाकुर, सत्यनारायण चौधरी, अनवर आलम, अकबर अली, शामिल थे।
Facebook Comments
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply