विज़न इंटरनेशनल स्कूल सहरसा के बैनर तले मौलाना असरारुल हक़ क़ासमी के व्यक्तित्व पर 30 दिसम्बर को बिहार उर्दू अकादमी पटना में “मोहसिन-ए-मिल्लत सेमिनार

पटना: (संवाददाता)… पिछली अर्ध शताब्दी के बीच में जिन उलमा व बुद्धजीवियों की सेवाएं राष्ट्रीय एकता, सामाजिक कल्याण और मुसलमानों की शैक्षिक एवं आर्थिक विकास के लिए समर्पित रही हैं उनमें हज़रत मौलाना मुहम्मद असरारुल हक़ क़ासमी रहमतुल्लाह अलैह का एक नुमायाँ नाम है। मौलाना मरहूम विविध गुणों और अनेक प्रतिभाओं के धनी थे, उनकी सेवाएं कई प्रकार से अपनी ओर आकर्षित करने वाली हैं, और उनकी सेवाओं का हर क्षेत्र फ़िक्र ओ अमल के प्रकाश से प्रकाशित है। उन्होंने राजनीतिक, सामाजिक, कल्याणकारी, पत्रकारिता, लेखन व हर क्षेत्र में अनमिट छाप छोड़ी है, देश व मिल्लत के लिए उन्होंने अत्यन्त बहुमूल्य कारनामे अंजाम दिए हैं। हज़रत मौलाना मुहम्मद असरारुल हक़ क़ासमी रहमतुल्लाहि अलैह की 50 वर्षीय दीनी, इल्मी, सामाजिक, राजनीतिक, पत्रकारिता और शैक्षिक सेवाओं के तत्वावधान में विज़न इंटरनेशनल स्कूल सहरसा के बैनर तले और नूर एजुकेशनल एंड वेलफ़ेयर सोसाइटी दरभंगा के साथ मिलकर “मोहसिन-ए-मिल्लत सेमिनार” 30 दिसम्बर दिन रविवार सुबह साढ़े दस बजे बिहार उर्दू अकादमी, अशोक राज पथ, पटना के सेमिनार हॉल में आयोजित किया जाएगा। यह सूचना युवा पत्रकार नूरूस्सलाम नदवी ने आज मीडिया को दी।
उन्होंने कहा कि सेमिनार की अध्यक्षता हज़रत मौलाना अनीसुर्रहमान क़ासमी प्रबंधक अमारत-ए-शरिया फुलवारी शरीफ़ पटना करेंगे, सेमिनार में मशहूर शख़्सियत मौलाना अबु तालिब रहमानी मेम्बर ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड, मौलाना सय्यद शाह मसऊद अहमद क़ादरी नदवी, प्रिंसिपल मदरसा इस्लामिया शमशुल हुदा पटना, मौलाना ख़ालिद तैमूरी क़ासमी अध्यक्ष जमीयत उलेमा बेगूसराय, अहमद अशफ़ाक़ करीम मेम्बर राज्यसभा, केंद्रीय हज कमेटी इंडिया के चेयरमैन वखगड़िया के एमपी चौधरी महबूब अली क़ैसर, सरफ़राज़ आलम मेम्बर ऑफ पार्लियामेंट अररिया, मौलाना मुतीउर्रहमान सल्फ़ी, चेयरमैन तौहीद एजुकेशनल ट्रस्ट किशनगंज, अल्हाज मुहम्मद इरशादुल्लाह चेयरमैन बिहार स्टेट सुन्नी वक़्फ़ बोर्ड पटना, मौलाना सऊद नदवी अज़हरी, डायरेक्टर मिल्ली गर्ल्स स्कूल किशनगंज, इम्तियाज़ अहमद करीमी डायरेक्टर उर्दू डायरेक्टोरेट, कैबिनेट सिक्रेटियत, पटना, हज़रत मौलाना असरारुल हक़ क़ासमी के ख़ास ख़ादिम मौलाना नौशेर अहमद, सेक्रेट्री ऑल इंडिया तालीमी व मिल्ली फाउंडेशन दिल्ली, क़ारी मुहम्मद सुहेब अध्यक्ष आर.जे.डी. यूथ, बिहार, डॉ अब्दुर्रहमान तैमी, जनरल डायरेक्टर जामिया इमाम इब्न तैमिया ढाका, पश्चिमी चंपारण, बिहार के प्रसिद्ध पत्रकार व विश्लेषक अशरफ़ अस्थानवी समेत अन्य अग्रणी इल्मी, सामाजिक, पत्रकारिता और रणनीतिक व्यक्तित्व उपस्थित हो रहे हैं और अपनी अपनी रिसर्च थीसिस और भाषण इत्यादि देंगे। नूरुस्सलाम नदवी ने आगे बताया कि सेमिनार में मौलाना असरारुल हक़ क़ासमी रह. की ज़िंदगी और कारनामों के अतिरिक्त उनके चिंतन व कार्यों के कुछ वो भाग जिससे सामान्यतः लोग अंजान हैं उस पर मुख्य रूप से प्रकाश डाला जाएगा। यह सेमिनार मौलाना के व्यक्तित्व और सेवाओं से नई पीढ़ी को परिचित कराने में मील का पत्थर साबित होगा। उन्होंने तमाम इल्म दोस्त, अदब नवाज़, और मिल्ली और सामाजिक व्यक्तियों से सेमिनार में शिरकत का अनुरोध किया है। सेमिनार की तैयारी अंतिम चरणों में है, प्रोग्राम के कन्वेनर व “विज़न स्कूल सहरसा” के डायरेक्टर शाहनवाज़ बदर क़ासमी सेमिनार की कामयाबी में पूर्णरूपेण व्यस्त हैं।

Facebook Comments
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply