शिक्षा की वास्तविक स्थिति के अवलोकन हेतु एस०आई०ओ० ने छेड़ा है शिक्षा आंदोलन

*शिक्षा की वास्तविक स्थिति के अवलोकन हेतु एस०आई०ओ० ने छेड़ा है शिक्षा आंदोलन*

विगत 7 जुलाई से चलाया जा रहा है प्रदेश स्तरीय शिक्षा आंदोलन।

आयोजित किए जा रहे हैं विभिन्न कार्यक्रम, एस०आई०ओ०की टीम विभिन्न विद्यालयों का कर रही है दौरा।

सहरसा….. प्रदेश स्तरीय शिक्षा आंदोलन अभियान अन्तर्गत स्टूडेंट्स इस्लामिक आर्गेनाईजेशन ऑफ इंडिया (एस० आई० ओ०) बिहार प्रदेश का एक दल सहरसा पहुँचा। इस दल ने प्राथमिक शिक्षा के वास्तविक स्थिति के अवलोकन हेतु जिले के विभिन्न विद्यालयों का भ्रमण किया, जहाँ शिक्षकों, छात्रों एवं अविभावकों के साथ शिक्षा सुधार हेतु संवाद किया गया। इस संवाद में जहाँ एक तरफ अविभावकों ने स्कूल में शिक्षकों की लापरवाही एवं स्कूल में सुविधाओं की कमी को मुख्य कारण बताया तो दूसरी तरफ अपनी लापरवाही को भी स्वीकारा। अभिभावकों ने कहा कि स्कूल में ग्रामीण शिक्षकों के पदस्थापित होने के कारण हम ग्रामीण कुछ नहीं कर पाते, उधर स्कूल प्रशासन ने कहा कि सरकार की तरफ से दी जा रही योजनाओं का किर्यान्वयन सही से हो रहा है। कुछ मूलभूत सुविधाएंअपर्याप्त है, मध्याह्न भोजन व्यवस्था से विद्यालय के पठन-पाठन में बाधाऐं आती है। कुछ अभिभावकों की गलती है जो खुद अपने बच्चों पर ध्यान नहीं देते।
इस क्रम में सौरबाज़ार प्रखण्ड स्थित महावीर उ० माध्यमिक विद्यालय धमसैना के प्रधानाध्यापक राजेश कुमार झा ने कहा कि आज कल लोगों का सरकारी स्कूलों से आस्था खत्म सा हो गया है, जबकि हमारे विद्यालय में बहुत सारी अन्य शैक्षणिक गतिविधियों का आयोजन समय-समय पर कराया जाता है, जैसे दीवार पत्रिका विमोचन, पोस्टर मेकिंग, वाद-विवाद प्रतियोगिता, लेखन प्रतियोगिता इत्यादि। इस प्रकार के गतिविधियों से ग्रामीणों की सोच में बहुत बदलाव आया है।

मौके पर एस० आई० ओ० के प्रदेश कैम्पस सचिव शादमान नोमानी ने कहा कि इस भ्रमण में बहुत सारी समस्याओं से रूबरू होने का मौका भी मिला हैै जिसे राज्य स्तर पर एक माँग पत्र की शक्ल में बिहार सरकार को सौंपा जाएगा एवं शिक्षा की गुणवत्ता हेतु कुछ रचनात्मक कदम उठाया जाएगा।
इस अवसर पर एस० आई० ओ० बिहार के प्रदेश सचिव मुनाजिर अंसारी, वसीम अकरम अशरफ अंसारी, अवनीश कुमार, कलीम, हैदर एवं अन्य लोग उपस्थित थे।

Facebook Comments
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply