मैं एक सफल फिल्म अभिनेत्री बनना चाहती हूँ ….. निशा वाडेकर

न्यूज़ संवाददाता

सहरसा : सहरसा जिले के सिमरी बख्तियारपुर प्रखंड की सरोजा पंचायत के गलफरिया गांव निवासी अजय वाडेकर व इंदु वाडेकर की पुत्री निशा कुमारी ने कत्थक नृत्य से अपनी पहचान बना ली है । छोटे से गांव से निकली इस लड़की ने अपनी प्रतिभा से कत्थक नृत्यांगना के रूप में कोशी क्षेत्र ही नही पुरे बिहार में प्रतिभावान कलाकार के रूप में स्थापित हो चुकी है ।

अभिनय में भी है अभिरुचि 15 वर्षीय कत्थक नृत्यांगना निशा वाडेकर को अभिनय की भी अभिरुचि है । इप्टा से जुड़कर कई नाटकों में उसने अपनी अमिट छाप छोड़ी है । निशा ने कहा मेरी ख्वाहिश है की भविष्य में, मैं एक सफल फिल्म अभिनेत्री बनू । 10 वर्ष की उम्र से ही निशा कत्थक सीखना सुरु किया और शहर के शशि सरोजनी रंगमंच संस्थान से जुडी और जिला व प्रमंडल स्तर पर अपनी प्रस्तुति से लोगो की चहेती बन गयी । निशा कहती है की वे पहले अपने घर में टेलीविजन पर डांस के स्टेप को देख-देख कर डांस करती थी और घर वालो ने उसकी लगन देखकर उसे विधिवत कत्थक नृत्य शिखाना सुरु कर दिया । अपने माता-पिता को प्रेरणास्त्रोत बताते हुए निशा कहती है की घरवालों ने मुझे बराबर सहयोग किया और पढाई के साथ-साथ नृत्य का डोर चलता रहा । वर्ष 2019 में निशा बोर्ड की परीक्षा देने की तेयारी में जुटी है । निशा ने पिता अजय वाडेकर प्रसिद गायक हैं । वर्ष 2014 में राजगीर में आयोजित युवा महोत्सव में कत्थक नृत्य की प्रस्तुति दे चुकी है । हाल में ही नवंबर वर्ष 2018 में सहरसा ग्रुप द्वारा आयोजित कोशी फिल्म फेस्टिवल में भी निशा को नृत्य करने का अवसर मिला ।

Facebook Comments
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply