नियोजित व नियमित सभी एकजुट होकर लड़ाई लड़ने का लिया संकल्प

रेवती रमण सिंह धरना को संबोधित करते हुए

वजीह अहमद तसौवुर के कलम से ✍️
बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के आव्हान पर विगत 17 फरवरी से चलाये जा रहे अनिश्चितकालीन हड़ताल के छठे दिन आज शिक्षक साथियों पर दमनात्मक कारवाई के विरोध में संघ के आदेश पर बीआरसी केंद्र सिमरीबख्तियारपुर में रोषपूर्ण धरना दिया गया जहां शिक्षक नेताओं ने पुरी चट्टानी एकता के साथ इस लड़ाई को लड़ने का संकल्प लिया। शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के प्रखंड संयोजक श्री ब्रह्मदेव यादव की अध्यक्षता एवं मीडिया प्रभारी वजीह अहमद तसौवुर के मंच संचालन में आयोजित इस सभा को संबोधित करते हुए प्राथमिक शिक्षक संघ के अनुमंडल सचिव श्री रेवती रमण सिंह ने कहा कि नियोजित शिक्षकों की मांग जायज है और सरकार को इस पर गंभीरता से विचार करना चाहिए। उन्होंने शिक्षकों से कहा कि आपको डरने की जरूरत नहीं है क्योंकि सब संघ व संगठन एक हैं और आपके साथ हैं।

तारिक अंजुम धरना को संबोधित करते हुए

शिक्षक नेता व वरिय बीआरपी तारिक अंजुम जो आज के धरना में शामिल भी हुये कहा कि हम सभी बड़े भाई का कर्तव्य निभा रहे हैं और पुरे दिल से आप सबके साथ हैं और जब तक सरकार मांग मान नहीं लेती है साथ रहेंगे। वरिष्ठ शिक्षक अवधेश कुमार सिंह ने कहा कि हमलोग पुरे खुले दिल से अपने छोटे नियोजित शिक्षक भाईयों के साथ हैं। इसी प्रकार वरिय शिक्षक मुरली कुमार सिंह भी धरना स्थल पर पहुंच अपना समर्थन दिया।

अपने संबोधन में संघर्ष समिति के सचिव अशोक कुमार सिंह और बंधन पासवान ने कहा कि शिक्षकों को डराने से शिक्षक अपने कदम पीछे हटाने वाले नहीं हैं। अध्यक्ष संजय कुमार सुमन एवं उमर फारूक ने इस लड़ाई को अंजाम तक पहुंचाने के लिए सभी शिक्षकों से एकजुट होकर प्रयास करने का आव्हान किया। अपने अध्यक्षीय भाषण में ब्रह्मदेव यादव ने कहा कि लडाई में डर कर भागने से नहीं बल्कि हौसले और हिम्मत से अपनी मांगों पर अडिग रहने से सफलता मिलेगी और हम सब नियमित शिक्षक पुरी तरह संगठन के आदेश पर आपके साथ हैं और उम्मीद करते हैं कि जल्द ही सफलता मिलेगी।

अवधेश कुमार सिंह धरना को संबोधित करते हुए

अपने संबोधन में संयम कुमारी और जहां आरा ने महिला शिक्षिकाओं के काभी कम उपस्थिती पर अफसोस जाहिर करते हुए कहा कि शिक्षिकाओं को घर से बाहर आकर लड़ाई की मशाल को अपने हाथों में थामना होगा। यह लड़ाई हमारे अस्तित्व की लड़ाई है जिसको सभी को मिलजुल कर लड़ना होगा।

 

धरना कार्यक्रम को संबोधित करने वालों में नरेन्द्र कुमार सिंह, धीरेन्द्र झा, सिकेन्द्र सुमन, सुजीत कुमार सिंह, सुल्तान अहमद, सुनील प्रभाकर, सैयद फतह अशरफ, शिव शक्ति कुमार, सुधीर कुमार, मोहन कुमार भगत, मनोज कुमार, सदानंद गुप्ता, दिलीप पासवान, रमेश कुमार आदि ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर उपस्थित लोगों में वरिष्ठ शिक्षक साबिर हुसैन, राजीव कुमार सिंह, ज्योति कुमार, अफरोज गुड्डू, रविराज टाईगर, प्रकाश कुमार, साबिर अली, अब्दुल अहद, शाहिद अनवर, मनदेव राम, मोजम्मिल अशरफ, गुलाम फरीदी, विक्की कुमार आदि शामिल थे।

 

 

Facebook Comments
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply